कलर्स 5 साल के लंबे अंतराल के बाद अपना सबसे पसंदीदा सेलेब्रिटी डांस शो ‘झलक दिखला जा’ लाने के लिये तैयार है। इस आइकॉनिक शो में जिन्‍दगी के अलग-अलग क्षेत्रों से आने वाले सेलेब्रिटीज की डांसिंग का सफर होगा और वे पूरी शिद्दत से डांस फ्लोर पर आग लगाने की कोशिश करेंगे।

1. आखिर किस वजह से डांस रियलिटी शो में आने का फैसला किया?

सच कहूं, तो मैंने कभी डांसिंग की फॉर्मल ट्रेनिंग नहीं ली है, लेकिन एक एक्‍टर के लिये अच्‍छा डांसर होना उसकी कला का अहम हिस्‍सा होता है। और ‘झलक दिखला जा’ से बड़ा कोई डांस रियलिटी शो नहीं है, इसमें एक्‍सपर्ट कोरियोग्राफर्स होते हैं, जो हर हफ्ते अलग-अलग तरह का डांस सिखाते हैं और इनके साथ आप परफॉर्म करते हैं। मैंने कभी कोई रियलिटी शो भी नहीं किया है, तो जब मुझे ‘जेडीजे’ का ऑफर मिला, जिसमें इतनी नामचीन हस्तियां जजेज पैनल में हैं, तब मैंने सोचा कि रियलिटी शोज में अपना कॅरियर शुरू करने का यह सबसे बढ़िया मौका होगा। मुझे उम्‍मीद है कि इस शो में मेरा सफर जब भी खत्‍म होगा, मैं एक बेहतर डांसर, बेहतर परफॉर्मर और बेहतर एक्‍टर बनकर उभरूंगा।

2. पहले एपिसोड की शूटिंग का अनुभव कैसा रहा?

‘झलक दिखला जा’ मेरा पहला रियलिटी शो है और शूटिंग के पहले दिन का अनुभव सपने जैसा था, क्‍योंकि मैंने मल्‍टी-टैलेंटेड जजों के पैनल के सामने परफॉर्म किया। करण जौहर सर ने सबसे अच्‍छा कॉम्‍पलिमेंट दिया, जब उन्‍होंने कहा कि मैं टेलीविजन का ‘एसआरके’ (शाहरूख खान) हूँ। मेरा तो दिन ही बन गया, मेरे लिये इससे बेहतर बात और क्‍या हो सकती थी?

3. क्‍या हम कह सकते हैं कि आप इस डांस रियलिटी शो के जरिये खुद को चुनौती दे रहे हैं?

मैं यह नहीं कह रहा हूँ कि मैं बिलकुल भी डांस नहीं कर सकता। मैंने इस इंडस्‍ट्री को अपनी जिन्‍दगी के 14 साल दिये हैं, कई इवेंट्स किये हैं और डांस शोज के लिये विदेश भी गया हूँ, लेकिन रियलिटी शोज बहुत अलग होते हैं। यह कोई इवेंट नहीं है, आपको तीन से चार महीने लगातार रिहर्सल करनी पड़ती है, हर दिन पाँच से छह घंटे प्रैक्टिस करनी होती है, ताकि आप डांसिंग में निश्चित तौर पर बेहतर बन सकें। दूसरी बात यह है कि एक एक्‍टर को अच्‍छा डांस आना ही चाहिए।

4. प्रतियोगिता में भाग लेते हुए आपके दिमाग में क्‍या चल रहा है?

रियलिटी शो करते हुए मैं अपने कम्‍फर्ट ज़ोन से बाहर हूँ, क्‍योंकि मैंने अपने कॅरियर के 14 साल में ऐसा कुछ नहीं किया है। मैं खुद को रोज चुनौती दे रहा हूँ। मेरा दूसरा शो ‘शेरदिल शेरगिल’ जल्‍दी ही प्रसारित होगा और मैं हाल ही में पिता बना हूँ। तो मेरे तीन अलग-अलग सफर चल रहे हैं और तीनों में बहुत समय और समर्पण चाहिये। यह तीनों चीजें मेरी जिन्‍दगी में एक ही समय में हुई हैं और इसके लिये मैं ईश्‍वर का आभारी हूँ। काम और निजी जिन्‍दगी के बीच तालमेल बिठाना कभी-कभी चुनौती भरा होता है। मुझे थकान होती है, कभी-कभी सेहत पर असर पड़ता है, लेकिन मैं खुद को याद दिलाता रहता हूँ कि मैं यहाँ जीतने के लिये आया हूँ! दिन के आखिर में जब मैं अपने बच्‍चे को गोद लेता हूँ, तब सबकुछ भूल जाता हूँ और लगता है कि मेरा संघर्ष सफल रहा।

5. रियलिटी शोज लंबे समय से चल रहे हैं। क्‍या कोई खास कारण था कि आप उनसे दूर रहे?

मुझे कभी समय नहीं मिला! सच कह रहा हूँ कि भगवान की कृपा से मैं हमेशा व्‍यस्‍त रहा। मुझे लगता है कि डेली सोप में काफी समय देना पड़ता है- आपको दिन में 12 घंटे शूटिंग करनी पड़ती है और घर पहुँचते-पहुँचते आप थक जाते हैं। फिर कुछ इवेंट भी होते हैं, जिनमें जाना जरूरी होता है और सफर करना पड़ता है। इसमें बहुत समय लगता है। मुझे लगता है कि अगर मैं कोई प्रोजेक्‍ट करूं, चाहे वह रियलिटी शो हो या डेली सोप, मुझे अपना 100% देना चाहिये। रियलिटी शो करने को लेकर मुझे थोड़ा डर लगता था, लेकिन मेरी सबसे बड़ी सपोर्टर, यानि मेरी बीवी ने मुझे इसके लिये समझाया! मुझे यकीन है कि इस शो के बाद मैं रियलिटी शोज के साथ भी बहुत सहज हो जाऊंगा। मैं नई चीजें सीख रहा हूँ और हो सकता है कि अगर मैं इसे पसंद करने लगूं, तो रियलिटी शोज पर ज्‍यादा ध्‍यान देने लगूंगा।

 58 total views,  2 views today

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment